Home Biography Dr. APJ अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय

Dr. APJ अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय

Dr. APJ अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय (APJ Abdul kalam biography and history in hindi)

जीवन परिचय बिंदुअब्दुल कलम जीवन परिचय
पूरा नामडॉक्टर अवुल पाकिर जैनुल्लाब्दीन अब्दुल कलाम
जन्म15 अक्टूबर, 1931
जन्म स्थानधनुषकोडी गांव, रामेश्वरम, तमिलनाडु
माता-पिताअसिंमा , जैनुलाब्दीन
म्रत्यु27 जुलाई 2015
राष्ट्रपति बने2002-07
शौककिताबें पढना, लिखना, वीणा वादन
होम पेजयहाँ क्लिक करें
एपीजे अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय | Hindimeto.com

अवुल पकिर ज़ैनुल आबिदीन अब्दुल कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को तमिलनाडु के रामेश्वरम में एक मुस्लिम परिवार में हुआ था। उनके पिता ज़ैनुल आबिदीन एक नाविक थे और उनकी माँ, आशियाम्मा, एक गृहिणी थीं। उनके परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी इसलिए उन्हें कम उम्र से ही काम करना पड़ा। अपने पिता की आर्थिक मदद के लिए बालक कलाम स्कूल के बाद अखबार बांटते थे। अपने स्कूल के दिनों में कलाम पढ़ाई में सामान्य थे लेकिन कुछ नया सीखने के लिए हमेशा तैयार और तैयार रहते थे।

पिछले लेख में, हमने महत्वपूर्ण विषय  Coindcx Kya Hai 2021 Coindcx अकाउंट कैसे बनाएं? और Meesho App क्या है और इस से पैसे कैसे कमाए? सम्पूर्ण जानकारी ! के बारे में अच्छे से और सम्पूर्ण जानकारी प्रदान कर चुके हैं।

उनमें सीखने की भूख थी और वे घंटों अपनी पढ़ाई पर ध्यान देते रहे। उन्होंने रामनाथपुरम श्वार्ट्ज मैट्रिकुलेशन स्कूल में अपनी स्कूली शिक्षा पूरी की और फिर सेंट जोसेफ कॉलेज, तिरुचिरापल्ली में दाखिला लिया, जहाँ से उन्होंने 1954 में भौतिकी में स्नातक किया। उसके बाद, वर्ष 1955 में, वे मद्रास चले गए जहाँ से उन्होंने एयरोस्पेस इंजीनियरिंग की पढ़ाई की। साल 1960 में कलाम ने मद्रास इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की।

राष्ट्रपति कलाम ने खुद लिखा धन्यवाद कार्ड! एक बार की बात है एक शख्स ने डॉ APJ अब्दुल कलाम का स्केच बनाकर उनके पास भेजा। उन्हें यह जानकर बहुत आश्चर्य हुआ कि डॉ कलाम ने स्वयं उन्हें अपने हाथों से एक संदेश और अपने हस्ताक्षर के साथ एक धन्यवाद कार्ड भेजा है।

यह भी पढ़ें-

Instagram से पैसे कैसे कमाए ? सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में !

WazirX क्या है और P2P Crypto Exchange कैसे काम करता है?

What is Meesho and How To Earn Money From Meesho App?

1969 में, उन्हें इसरो भेजा गया जहाँ उन्होंने परियोजना निदेशक के रूप में काम किया। उन्होंने पहले उपग्रह प्रक्षेपण यान (SLV III) और ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (PSLV) के निर्माण में अपना योगदान दिया, जिसका प्रक्षेपण बाद में सफल रहा।

1980 में, भारत सरकार ने अब्दुल कलाम जी दिशा के साथ एक आधुनिक मिसाइल कार्यक्रम शुरू करने का विचार किया, इसलिए उन्होंने इसे वापस डीआरडीओ में भेज दिया। उसके बाद, कलाम जी के मुख्य कार्यकारी के रूप में एकीकृत निर्देशित मिसाइल विकास कार्यक्रम (IGMDP) शुरू किया गया था। अब्दुल कलाम जी के निर्देश पर ही अग्नि मिसाइल, पृथ्वी जैसी मिसाइल बनाने में सफलता मिली।

डॉ कलाम किसी व्यक्ति या राष्ट्र के लिए एक सक्षम भविष्य के निर्माण में शिक्षा की भूमिका को जानते थे। उन्होंने हमेशा देश को प्रगति के पथ पर आगे ले जाने की बात कही। उनके पास भविष्य का स्पष्ट खाका था, जिसे उन्होंने अपनी पुस्तक ‘इंडिया 2020: ए विजन फॉर द न्यू मिलेनियम’ में प्रस्तुत किया। भारत 2020 पुस्तक में उन्होंने लिखा है कि भारत को वर्ष 2020 तक एक विकसित देश और ज्ञान महाशक्ति बनना है। उन्होंने कहा कि मीडिया को देश की प्रगति में एक गंभीर भूमिका निभाने की जरूरत है। नेगेटिव खबरें किसी को कुछ नहीं दे सकतीं, लेकिन सकारात्मक और विकास संबंधी खबरें उम्मीदें जगाती हैं। डॉ कलाम को एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक, प्रशासक, शिक्षाविद और लेखक के रूप में हमेशा याद किया जाएगा और देश की कई पीढ़ियां, वर्तमान और भविष्य, उनके प्रेरक व्यक्तित्व और महान कार्यों से प्रेरणा लेती रहेंगी।

पूर्व राष्ट्रपति और मिसाइलमैन APJ अब्दुल कलाम अचानक सभी को छोड़कर अनंत यात्रा पर निकल गए। 83 वर्षीय डॉ कलाम का सोमवार शाम दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। इस खबर ने पूरे देश को सदमे में डाल दिया और साथ ही इस शख्स से जुड़ी हर याद आम लोगों के बेहद करीब ताजा हो गई। ऐसा ही एक वाकया पिछले साल भी हुआ था, जब दो साल की बच्ची ने फ्लाइट से इंदौर आते वक्त डॉक्टर कलाम का दिल जीत लिया था।

पिछले साल जून में पूर्व राष्ट्रपति APJ अब्दुल कलाम इंदौर के लिए फ्लाइट में दो साल की बच्ची की तारीफ करने से नहीं बच पाए जो सबको शेयर करना सिखा रही थी. दो साल की बच्ची का नाम मानवी था और वह अपने चिप्स के पैकेट से फ्लाइट में सवार सभी यात्रियों को मासूमियत से चिप्स दे रही थी. कई यात्रियों को चिप्स देने के बाद वह डॉ कलाम के पास भी पहुंची थीं. दो साल के इस मासूम के लिए वो कोई पूर्व राष्ट्रपति नहीं बल्कि हर किसी की तरह एक यात्री था. बच्चे ने जब उन्हें बड़े प्यार से चिप्स दिए तो डॉ. कलाम काफी भावुक हो गए. उन्होंने लड़की को गले लगाया और उसके साथ तस्वीरें लीं। वे लड़की की उदारता के कायल थे और उसकी प्रशंसा की। इतना ही नहीं उनके शेयर करने की ये बात कलाम को इतनी पसंद आई कि उन्होंने मानव के साथ फोटो भी खिंचवा कर ट्वीट कर दिया.

यह भी पढ़ें- Meesho App क्या है और इस से पैसे कैसे कमाए? सम्पूर्ण जानकारी !

यह भी पढ़ें- CashKaro क्या है? और इससे पैसे कैसे कमाए?

कलाम जानते थे कि किसी व्यक्ति या राष्ट्र के लिए एक सक्षम भविष्य के निर्माण में शिक्षा क्या भूमिका निभा सकती है। उन्होंने हमेशा देश को प्रगति के पथ पर आगे ले जाने की बात कही। उनके पास भविष्य का स्पष्ट खाका था, जिसे उन्होंने अपनी पुस्तक ‘इंडिया 2020: ए विजन फॉर द न्यू मिलेनियम’ में प्रस्तुत किया। भारत 2020 पुस्तक में उन्होंने लिखा है कि भारत को वर्ष 2020 तक एक विकसित देश और ज्ञान महाशक्ति बनना है।

उन्होंने कहा कि मीडिया को देश की प्रगति में गंभीर भूमिका निभाने की जरूरत है। नेगेटिव खबरें किसी को कुछ नहीं दे सकतीं, लेकिन सकारात्मक और विकास संबंधी खबरें उम्मीदें जगाती हैं। डॉ कलाम को एक प्रसिद्ध वैज्ञानिक, प्रशासक, शिक्षाविद और लेखक के रूप में हमेशा याद किया जाएगा और देश की कई पीढ़ियां, वर्तमान और भविष्य, उनके प्रेरक व्यक्तित्व और महान कार्यों से प्रेरणा लेती रहेंगी।

कलाम साहब ने अपनी आत्मकथा ‘माई जर्नी’ में लिखा है- जीवन के वे दिन बहुत शपथ ग्रहण किए थे। एक तरफ विदेश में शानदार करियर था और दूसरी तरफ देश की सेवा करने का विचार। बचपन के सपनों को साकार करने, विचारों की ओर बढ़ने या अमीर बनने के अवसर को गले लगाने का अवसर चुनना मुश्किल था।

यह भी पढ़ें-IAS क्या है, IAS Full form ? IAS ऑफिसर कैसे बने?

लेकिन अंत में मैंने पैसे के लिए विदेश नहीं जाने का फैसला किया। मैं अपने करियर की देखभाल के लिए देश की सेवा करने का मौका नहीं चूकूंगा। इस तरह मैं 1958 में डीआरडी और रक्षा अनुसंधान और विकास (संगठन) में शामिल हो गया।

डॉ कलाम की पहली पोस्टिंग डीआरडीओ के हैदराबाद सेंटर में हुई थी। पांच साल तक यहां के महत्वपूर्ण शोध में उनका अहम योगदान रहा। उन दिनों चीन ने भारत पर आक्रमण किया था। 1962 के इस युद्ध में भारत को करारी हार का सामना करना पड़ा। युद्ध के तुरंत बाद, यह निर्णय लिया गया कि देश की सामरिक शक्ति को नए हथियारों से लैस किया जाना चाहिए। कई योजनाएं बनाई गईं, जिनके जनक डॉ. कलाम थे।

लेकिन 1963 में उनका हैदराबाद से त्रिवेंद्रम ट्रांसफर कर दिया गया। उन्हें विक्रम अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र में स्थानांतरित कर दिया गया, जो दूसरों (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) का सहयोगी संस्थान था। इस केंद्र में 1980 तक डॉ. कलाम ने काम किया। इस लंबी सेवा में उन्होंने देश को अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण स्थान पर पहुँचाया।

APJ अब्दुल कलाम की बुक्स (APJ Abdul Kalam books )–

अब्दुल कलम साहब की ये कुछ बुक्स, जिनकी रचना उन्होंने की थी:

  • इंडिया 2020 – ए विशन फॉर दी न्यू मिलेनियम
  • विंग्स ऑफ़ फायर – ऑटोबायोग्राफी
  • इग्नाइटेड माइंड
  • ए मेनिफेस्टो फॉर चेंज
  • मिशन इंडिया
  • इन्सपारिंग थोट
  • माय जर्नी
  • एडवांटेज इंडिया
  • यू आर बोर्न टू ब्लॉसम
  • दी लुमीनस स्पार्क
  • रेइगनिटेड

A.P.J. अब्दुल कलाम जी मिले मुख्य अवार्ड व् सम्मान –

अवार्ड मिलने का सालअवार्ड का नाम
1981भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण दिया गया.
1990भारत सरकार द्वारा पद्म विभूषण
1997भारत सरकार द्वारा देश का सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया.
1997इंदिरा गाँधी अवार्ड
2011IEEE होनोअरी मेम्बरशिप
Dr. APJ अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय

इसके अलावा उन्हें कई विश्वविद्यालयों ने डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा था। अब्दुल कलाम साहब के अनमोल वचन और कविताएँ पढ़ने के लिए क्लिक करें।

पुरस्कार:

विज्ञान के क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिए उन्हें 1981 में पद्म भूषण और 1990 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।

रक्षा अनुसंधान के क्षेत्र में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए उन्हें 1997 में देश के सर्वोच्च सम्मान भारत रत्न से सम्मानित किया गया था।

वर्ष 1998 में राष्ट्रीय एकता के लिए इंदिरा गांधी पुरस्कार प्राप्त किया

वर्ष 1998 में, अब्दुल कलाम को रॉयल सोसाइटी, यूके द्वारा किंग चार्ल्स द्वितीय पदक से सम्मानित किया गया था।

अब्दुल कलाम के पास दुनिया भर के 40 विश्वविद्यालयों से डॉक्टरेट की डिग्री है।

वर्ष 2011 में, अब्दुल कलाम को IEEE द्वारा IEEE मानद सदस्यता से सम्मानित किया गया था।

अपने अध्यक्षीय कार्यकाल के अंत में, अब्दुल कलाम आईआईएम शिलांग, आईआईएम अहमदाबाद, आईआईएम इंदौर, आईआईएस बैंगलोर और अन्य कॉलेजों में अतिथि प्रोफेसर के रूप में शामिल हुए। 2012 में, भारतीय युवाओं के लिए एक कार्यक्रम “व्हाट कैन आई गिव मूवमेंट” शुरू किया गया था, जिसका उद्देश्य भारत में भ्रष्टाचार को हराना है।

डॉ कलाम के विचार:

1. प्रश्न पूछना छात्रों की प्रमुख विशेषताओं में से एक है। तो छात्र सवाल पूछते हैं।

मेरे लिए नकारात्मक अनुभव जैसी कोई चीज नहीं है।

जीवन और समय दुनिया के दो सबसे महान शिक्षक हैं। जीवन हमें समय का सदुपयोग करना सिखाता है, जबकि समय हमें जीवन की उपयोगिता बताता है।

जब हम रोज़मर्रा की समस्याओं से घिरे होते हैं, तो हम अपने अंदर की अच्छी चीज़ों को भूल जाते हैं।

मनुष्य को कठिनाइयों की आवश्यकता होती है क्योंकि वे सफलता का आनंद लेने के लिए आवश्यक हैं।

मैं हमेशा यह मानने को तैयार था कि मैं कुछ चीजों को नहीं बदल सकता।

आधे-अधूरे मन से काम करने वालों को आधी-अधूरी, अधूरी सफलता मिलती है जो कटुता और कटुता भर देती है।

हमें कोशिश करना बंद नहीं करना चाहिए और समस्याओं से हारना नहीं चाहिए।

डॉ. कलाम ने साहित्यिक रूप से अपने विचारों को बहुत सारी पुस्तकों में शामिल किया है, जिनमें से कुछ हैं: विंग्स ऑफ फायर, इंडिया 2020 – ‘इंडिया 2020 ए विजन फॉर द न्यू मिलेनियम‘, और ‘इग्नाइटेड माइंड्सअनलीशिंग द पावर विद इंडिया‘। इन पुस्तकों का कई भारतीय और विदेशी भाषाओं में अनुवाद किया गया है।

इस ट्यूटोरियल में, हमने आपको Dr. APJ अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय” के बारे में पूरी जानकारी दी है। यह ट्यूटोरियल आपके लिए उपयोगी होगा। आपको यह जानकारी कैसी लगी कमेंट कर के जरूर बताइये और अपने सुझाव को हमारे साथ शेयर करें ।

यदि आपको यह Post पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि FacebookInstagram, Twitter और दुसरे Social media sites share कीजिये। इसी तरह की सही और संपूर्ण जानकारी के लिए आप हमारे Facebook Page को लाइक करें, लाइक करने के लिए यहाँ क्लिक करें |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

कबीर दास जी का जीवन परिचय -Kabir Das Ji Ka Jivan Parichay

कबीर दास जी का जीवन परिचय - ( Kabir Das Ji Ka Jivan Parichay in Hindi) कबीर दास...

स्वामी विवेकानंद (Swami Vivekanand) का जीवन परिचय – Biography

स्वामी विवेकानंद जीवनी (जीवनी), प्रेरक प्रसाद, अनमोल विचार हिंदी में (Swami Vivekananda's Biography and inspirational story in Hindi) स्वामी...

Dr. APJ अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय

Dr. APJ अब्दुल कलाम का इतिहास व जीवन परिचय (APJ Abdul kalam biography and history in hindi) जीवन परिचय...

CashKaro क्या है? और इससे पैसे कैसे कमाए?

CashKaro क्या है? इससे हम पैसे कमा सकते हैं? सम्पूर्ण जानकारी शॉपिंग करना किसे पसंद नहीं होता है,...

Recent Comments

Content Protection by DMCA.com
%d bloggers like this: